Home Contact About

Height to Weight Calculator

Height To Weight Calculator आपके हाइट के हिसाब से आपका स्वास्थ वजन को कैलकुलेट करता है इसके लिए बॉक्स में अपना Height को Centimeter या Feet में डालें और Calculate का बटन दबाए



Other Calculator




Share On Whatsapp
Author Avatar
Sushil Kumar
मेरा नाम सुशील कुमार है और मैं बिहार के रहने वाला हूं मैं इस टूल वेबसाइट पर कई तरह के कैलकुलेटर टूल डाला हुआ है जैसे Age Calculator, Paypal Fee Calculator, Time and Date Calculator इत्यादि। ये सभी टूल हमने आपकी सुविधाओं के लिए बनाया है ताकि आप इसका इस्तेमाल करके अपने काम को आसान बना सकें। आप हमसे जुड़ने के लिए नीचे दिए गए बटन के जरिए सोशल प्लेटफॉर्म को फॉलो कर सकते हैं।

स्वस्थ वजन कितना होना चाहिए?

बहुत से लोगों के मन में एक कन्फ्यूजन सदा बना रहता है कि उनका स्वस्थ वजन कितना होना चाहिए कहीं उनके शरीर में आवश्यकता से अधिक वजन तो नहीं है या फिर आवश्यकता से कम वजन तो नहीं है। डॉक्टर हमारे शरीर के वजन को हमारा शरीर के लंबाई के हिसाब से मापते हैं हमारे शरीर के लंबाई के हिसाब से वजन निकालने का जो फार्मूला है उसे BMI यानी Body Mass Index कहा जाता है, एक आदमी का स्वास्थ BMI 24 से 25 माना जाता है।

अगर आपका हाइट 170 सेंटीमीटर है तो आपका स्वास्थ्य वजन 70 किलो के आसपास होना चाहिए वहीं अगर आपका हाइट 160 सेंटीमीटर है तो फिर 60 किलो स्वस्थ वजन होना चाहिए और अगर आपका हाइट 150 सेंटीमीटर है तो फिर 50 किलो स्वस्थ वजन होना चाहिए। इसके ऊपर मेडिकल साइंस में कई सालों तक रिसर्च किया हमारे शरीर का वजन कितना हो ताकि बीमारी भी कम हो और हम स्वस्थ रह सके और इसी रिसर्च में ये पाया गया कि हमारा BMI 24 से 25 रहेगा तो इसे स्वस्थ वजन माना जाएगा।

Height To Weight Calculator के जरिए आप अपना हाइट के हिसाब से वजन चेक करें अगर वजन कम पाया जा रहा है तो ये शरीर के लिए ज्यादा नुकसानदायक नहीं होता है लेकिन अगर वजन ज्यादा पाया जा रहा है तो फिर ये नुकसानदायक हो सकता है इसलिए अपना वजन को एक स्वस्थ वजन में लाने की कोशिश करें।

कम या अधिक वजन के नुकसान

हमारे शरीर के लंबाई के हिसाब से वजन कम या ज्यादा होना दोनों ही हमारे शरीर के लिए नुकसानदायक होता है हमें अपना शरीर के हाइट के हिसाब से वजन को मेंटेन करके रखना होता है ताकि हम स्वस्थ जीवन जी सके। शरीर में आवश्यकता से अधिक या आवश्यकता से कम वजन होने पर हमारे शरीर का रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होता है जिससे हमारा शरीर बीमारियों से लड़ नहीं पाता है।

कम वजन

अगर बच्चों या नौजवान के शरीर का वजन कम होता है तो फिर विटामिन की कमी देखी जाती है और इसके वजह से हमारे शरीर में कई तरह के कमियां हो सकती है जैसे-

  • बच्चों के शरीर में खून का कमी होना।
  • Bones का Weak होना।
  • किडनी में शिकायत हो सकता है।
  • थकान का महसूस होना।
  • बाल झड़ने का कारण बन सकता है।
  • त्वचा में भी कमियां हो सकता है।

अधिक वजन

जिस तरह से वजन कम होने पर हमारे शरीर में कई तरह के बीमारियां घेड़ती है वैसे ही वजन ज्यादा होने पर और अधिक बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है ये जरूरी नहीं है कि सभी मोटे लोगों को बीमारियां घेर लेवे लेकिन मोटापा होने पर बीमारियां होने का चांस बना रहता है जैसे

  • मोटापे के वजह से सुंदर व्यक्ति भी भद्दा दिखने लगता है।
  • Type 2 डायबिटीज हो सकता है।
  • Hypertension का समस्या हो सकता है।
  • Hyperlipidemia
  • Obstructive Sleep Apnea
  • Asthma
  • Cancar
  • हार्ड में प्रॉब्लम आ सकता है।
  • दिमाग के नस फटने की संभावना।
  • ज्यादा मोटा व्यक्ति डिप्रेशन का शिकार हो सकता है।

स्वस्थ वजन बनाए रखना

एक व्यक्ति को अपना वजन पर कंट्रोल रखने के लिए खान-पान से लेकर दिनचर्या में व्यायाम एवं दौड़ लगाना ये सभी चीजें शामिल होना चाहिए अगर वजन ज्यादा है तो उसे कम करने के लिए भी डॉक्टर अलग-अलग सलाह देते हैं लेकिन तब भी परहेज को ही सबसे ऊपर रखा जाता है और दिनचर्या को सुचारू रूप से चलाने की सलाह दी जाती है जिसमें व्यायाम एवं दौड़ लगाना ज्यादा जरूरी होता है।

  • वजन को कम करने के लिए सिर्फ दो टाइम खाने का सलाह दिया जाता है जिसमें एक टाइम अन्न एवं एक टाइम फल खाया जाता है।
  • सुबह 4:00 से 5:00 बजे बिस्तर छोड़ने की सलाह दी जाती है एवं कम से कम एक से दो घंटा व्यायाम करना होता है जिसमें दौड़ लगाना भी शामिल होता है।
  • वसायुक्त भोजन से परहेज करने की सलाह दी जाती है एवं मिक्स अनाज खाने के लिए कहा जाता है जिसमें गेहूं के साथ मक्का ज्वार बाजरा एवं अन्य अनाज होते हैं।
  • वजन कम करने में चावल बाधक हो सकता है इसलिए भात खाने से परहेज करना चाहिए।
  • डिब्बा बंद खाना जैसे कुरकुरा, बिस्किट, पिज़्ज़ा, बर्गर इत्यादि का परहेज मोटापा कम करने के लिए किया जाता है।

मोटापा कम करने के लिए और स्वास्थ्य वजन बनाए रखने के लिए अपने डॉक्टर द्वारा बताए गए सलाह को मानना चाहिए और अपने दिनचर्या को सुचारू रूप से चलाना चाहिए क्योंकि मोटापा सिर्फ हमारे शरीर के सुंदरता को ही नहीं छीन लेता है बल्कि कई सारे बीमारियों का कुटुंब लेकर आता है और एक बार मोटा हो जाने के बाद फिर वापस स्वस्थ वजन पर आना काफी मुश्किल भरा काम होता है।